वसुधारा

जल-प्रपात हमेशा से मानव कल्पना को आकर्षित करते रहे हैं. माणा गाँव से 5 किमी दूरी पर पश्चिम में स्थित वसुधारा हिमाच्छादित चोटियों, ग्लेसियरों और ऊँची चट्टानों से घिरा 145 मी० ऊँचा झरना है. प्रचंड हवा कभी-कभी सम्पूर्ण जल-प्रपात की मात्रा को बिखेर देती है और ऐसा प्रतीत होता है जेसे झरना एक या दो मिनट के लिए रुक गया हो जिससे स्थानीय लोगों के मन में कई अन्धविश्वासी विचार उत्पन्न होते हैं.  

 

कैसे पहुंचें:

बाय एयर

निकटतम हवाई अड्डा देहरादून में जॉली ग्रांट एयरपोर्ट है, जो बद्रीनाथ के पास स्थित वसुधारा से लगभग 325 किमी दूर है। देहरादून हवाई अड्डे से बद्रीनाथ तक टैक्सी तथा बस सेवाएँ उपलब्ध हैं।

ट्रेन द्वारा

ऋषिकेश, हरिद्वार और देहरादून सभी के पास रेलवे स्टेशन हैं। वसुधारा से निकटतम रेलवे स्टेशन ऋषिकेश (लगभग 280 किमी) है। ऋषिकेश से वसुधारा बस/टैक्सी से पहुंचा जा सकता है।

सड़क के द्वारा

वसुधारा माना गांव से 7 किमी के ट्रेक पर है जो बद्रीनाथ से 2 किमी की दूरी पर स्थित है। राज्य परिवहन की बसें बद्रीनाथ और ऋषिकेश (280 किमी) के बीच नियमित रूप से चलते हैं। स्थानीय परिवहन संघ और राज्य परिवहन की बसें तथा टैक्सी बद्रीनाथ और ऋषिकेश (280 किमी), हरिद्वार (300 किमी), देहरादून (325 किलोमीटर) और दिल्ली (540 किमी) के बीच नियमित रूप से चलते हैं।