गोपेश्वर

1308 मी० की ऊंचाई पर स्थित सुन्दर पर्वत श्रिंखलाओं, सीढ़ीदार खेतों तथा छोटे झीलों से घिरा खूबसूरत गोपेश्वर नगर चमोली जिले का मुख्यालय है. भगवान शिव का एक प्राचीन मंदिर शहर का मुख्य आकर्षण है और हजारों तीर्थयात्री पूरे वर्षभर इस मंदिर के दर्शन को आते हैं। अपनी प्राकृतिक सुंदरता तथा ताजे और शांत वातावरण के कारण गोपेश्वर पर्यटकों के लिए एक प्रमुख आकर्षण का केन्द्र रहा है. इस नगर के आसपास कई प्रसिद्ध पर्यटन स्थल और धार्मिक केंद्र अवस्थित हैं. इतिहासकारों के अनुसार, गोपेश्वर का नाम भगवान कृष्ण के नाम से जुड़ा है।

भगवान शिव के प्राचीन मंदिर के अलावा वैतरणी कुंड, बिना प्रतिमाओं के मंदिर समूह तथा बांज के वृक्ष अन्य दर्शनीय स्थल हैं.  

कैसे पहुंचें:

बाय एयर

जॉली ग्रांट एयरपोर्ट 225 किमी की दूरी पर स्थित गोपेश्वर से निकटतम हवाई अड्डा है । जॉली ग्रांट एयरपोर्ट अच्छी तरह से दैनिक उड़ानों के साथ दिल्ली से जुड़ा हुआ है। गोपेश्वर अच्छी तरह से जॉली ग्रांट हवाई अड्डे के साथ मोटर सड़कों से जुड़ा हुआ है। टैक्सियां जॉली ग्रांट हवाई अड्डे से गोपेश्वर तक उपलब्ध रहती है।

ट्रेन द्वारा

गोपेश्वर से निकटतम रेलवे स्टेशन ऋषिकेश है। ऋषिकेश रेलवे स्टेशन एनएच 58 पर गोपेश्वर से 205 किमी की दूरी पर स्थित है। ऋषिकेश भारत के प्रमुख स्थलों के साथ रेलवे नेटवर्क से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है तथा ऋषिकेश के लिए रेलगाड़ी अक्सर उपलब्ध होती है। गोपेश्वर ऋषिकेश के साथ मोटर सड़कों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। टैक्सी और बसे ऋषिकेश, श्रीनगर, रुद्रप्रयाग और कई अन्य स्थलों से गोपेश्वर तक उपलब्ध रहती हैं।

सड़क के द्वारा

गोपेश्वर अच्छी तरह से उत्तराखंड राज्य के प्रमुख स्थलों के साथ मोटर सड़कों से जुड़ा हुआ है। ऋषिकेश और श्रीनगर के लिए बसें आईएसबीटी कश्मीरी गेट से उपलब्ध हैं। उत्तराखंड के प्रमुख स्थलों जैसे कि ऋषिकेश, पौड़ी, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, उखीमठ, श्रीनगर, जोशीमठ आदि से बसें और टैक्सी आसानी से गोपेश्वर के लिए उपलब्ध रहती है।